Home > VideosNeurology > Neuro Rehabilitation क्या होता है

Neuro Rehabilitation क्या होता है?

यह प्रक्रिया से क्षतिग्रस्त या बेजान हुए अंगो को सक्रिय कराया जाता है | यह प्रक्रिया को restorative neurology या physical medicine और rehabilitation भी कहा जाता है।

यह प्रशिक्षण उन् लोगों के लिए फायदेमंद है जिनके nervous system में कोई बाधाएं है जैसे की nervous system में कोई infection, चोट लगने की वजह से जब हाथ और पैर काम नहीं करते है या फिर जब मास-पेशिया कमज़ोर हो जाती है। Nervous system मतलब जो Brain, Spinal Cord और Nerves है, उसमे कभी कभी बिघाड आ सकता है, जिसके कारण रोज़ के कामो में रुकावट आती है।

Neuro rehabilitation विभिन्न स्तिथियों में दिया जाता है, जैसे की : Transverse myelitis, G B syndrome, Multiple Sclerosis, Parkinson’s.

अगर road traffic accident के बाद मरीज़ hospital में आता है तोह primary care के साथ साथ अगर Neuro rehabilitation समय पर कराया जाए तोह अधिकतर फायदा रहता है और complications जैसे; रिड का अकड़ना, हाथ पैर टेड़े होना, मांस पेशियाँ कमज़ोर होना, यह सब से बचा जा सकता है। Vertigo, sciatica और Back-ache में भी Neuro rehabilitation का फायदा होता है।

Stroke(पक्षाघात/ वविक्लांग) जिससे paralysis होता है हाथ और पैर का, और लकवा होने के बाद मरीज़ खुद के काम काज भी नहीं कर पाता। Stroke सबसे ज़्यादा विकलांगता के कारन होता है। Stroke के कारन जब चेहरे की मान पेशियाँ कमज़ोर हो जाती है तब बोलने में भी दिक्कत आती है और उसके इलाज के लिए Speech Therapy का इस्तेमाल किया जाता है।

Paralysis(विकलांगता ) की मरीज़ को कभी कभी अपना Saliva भी निगलने के लिए बहूत तकलीफ होती है , तोह मरीज़ो को नली के इस्तेमाल से diet plan दिया जाता है, पर neuro rehab की प्रशिक्षण करने से यह नली निकल सकती है। कई बार head injury/paraplegics/stroke के case में पिशाब पर काबू नहीं रहता है इसीलिए इस स्थिति में अनेक बार Catheter और Urine bag दी जाती है जिससे मरीज़ को पिशाब करने में आसानी होती है।

यह Rehab प्रोग्राम अनेक stages में दिया जाता हैं जिस से मरीज़ धीरे धीरे अपने शरीर पर वापस control पाता है। यह एक tailor made program है जिसमे हर एक मरीज़ का एक specialized कार्यक्रम रहता है। आधुनिक सुविधाओं के कारन यह प्रोग्राम बोहोत ही आसान और रोमांचक हो गया है। Exercise के करने का तरीका, exercise की तीव्रता, exercise कितने समय तक करा जाए etc. यह सब इस program में बताया जाता है। जैसे ही यह milestones प्राप्त होते है, Home program भी करा जा सकता है जिसमे मरीज़ के साथ घरवालों को भी परिक्षण दिया जाता है।

Neuroplasticity : हमारे दिमाग की परिवर्तन करने की क्षमता। Neuro rehab (पुनर्वास) का जो concept है , वह Neuroplasticity पर आधारित है, जिसमे दिमाग को मन चाहा आकर दे सकते है, पर इसके लिए mental practices और physical exercise को साथ में करना काफी अच्छे outcomes देता है। यह रोज़ रोज़ practice करने से शरीर को आदत पड़ती है और automatic movements करने में आसानी होती है।

यह प्रोसेस पूरी तरीके से एक teamwork है जिसमे psychiatrics, physician, surgeon और physiotherapist सब साथ में मिलके काम करते है, जिसमे पहले मरीज़ो का assessment करा जाता है और उसके बार prescription के हिसाब से वह सब डॉक्टर treatment के intensity का अनुमान लगते है। कभी कभी home care के साथ बोहोत सारे machinery का भी उपयोग करा जाता है।

About Author

dr stock

Dr. Rohini Dange

Physiotherapist

Contact: 8806252525
Email – ask@sahyadrihospitals.com

    Appointment Form




    For a quick response to all your queries, do call us.

    Patient Feedback

    Expert Doctors

    Emergency/Ambulance
    +91-88888 22222
    Emergency/Ambulance
    +91-88062 52525
    Call Now

    Generic selectors
    Exact matches only
    Search in title
    Search in content
    page
    post